wife sharing stories – Indian wife’s slave

wife sharing stories
wife sharing stories – Indian wife’s slave

wife sharing stories – Indian wife’s slave

Indian wife’s slave is one of those mouth watering hot and erotic wife sharing that leave you wanting for more.

Roshan held her head and then kissed her lips passionately. Rachana surrendered herself completely to Roshan’s as she caressed his hairy chest and his strong and muscular arms. Roshan leaned forward and started to suck on her tits once again.

Roshan lightly bit on her tits as Rachana moaned. She could feel his sharp teeth biting on her nipples. As he bit in to the soft flesh of her tits, Rachana couldn’t help but moan. She wondered if her husband would notice the love bites that Roshan was trying to give on her breasts.

Rachana could feel warm saliva of Roshan on her nipples wetting them as Roshan sucked them one by one. Every now and then he was biting her nipples making Rachana cry out loudly. Rachana was wailing loudly as lust and desire took over her body. She quivered and shook as Roshan licked all over her tits and neck.

Roshan started sucking on her left breast. Both of them were quiet now and only the obscene noises made by their mouths filled the room. Both of them had surrendered to lust and to each other.

Roshan stopped for a moment as he unhooked Rachana’s petticoat. Rachana pushed it down as it fell to the ground and Rachana stepped out of it. Roshan sat down on the ground and he started kissing her tummy. He reached up for her breasts and started squeezing her tits as he licked her tummy. Rachana caressed Roshan’s neck and stroked his hair with other hand. Roshan’s one hand was on her tits caressing and squeezing it while the other hand moved towards her panty. He started to pull it down.

“Get it our darling. I have been waiting for so long.”Rachana whispered in Roshan’s ears as she herself pushed her panty down. Roshan pulled it out of her legs as she got completely naked. But Roshan was still bus with her tits. Even after few moments when he didn’t take his cock out, Rachana grew impatient. Finally she herself unbuttoned his pant and inserted her hand inside it.

She felt awkward and shy as she felt Roshan’s huge cock for the first time. It was hard as a rock and already leaking precum. It must be at least 9 inch long and over 2 inch thick. She caressed it softly imagining it entering her wet cunt. She couldn’t help but compare it with her husband’s tiny cock.

“Roshan, this is so big. Is this why your wife divorced you? Poor girl must be sour every time you fucked her.” Rachana laughed as she stroked his cock but she was getting goose bumps all over her body as she thought of Roshan’s massive tool entering her cunt and pleasing her.

“She was an idiot. She just didn’t know how luck she was to have a cock like this servicing her juicy cunt. I hope you understand that. Isn’t it darling?”Once again Roshan took her large tits in his mouth and started sucking on them one by one.

“Well if you allow me to take it out then I will be lucky. What’s the point if you keep hiding it from me?”She laughed as she jerked his cock with her fingers. Roshan asked her to stop and then quickly removed his pant and dropped it on the floor.

Rachana almost fainted as his huge cock popped out right in front of her stomach. She took it in his hand and stroked. Rachana seriously started to wonder if she would be able to take it. She used her fingers expertly driving Roshan almost to the edge but every time pulling him back. Roshan was feeling horny and desperate. Next he did what Rachana could never imagine. As she was stroking his cock, Roshan suddenly slapped her face hard.

“Rachana, you are a fucking bitch. You didn’t see it for a moment before you start touching it.” Rachana almost felt tears running out of her mouth. He roughly grabbed her hair and pulled her closer as he kissed her roughly. She opened her mouth hungrily as desire overcame her pain where Roshan had slapped her face.

He roughly slapped her naked tits again and roughly pulled her by the hair towards.

“Roshan what are you doing? Stop it. You are hurting me.”But he kept pulling her by her hair and finally pushed her on the bed. Rachana tumbled on the bed and Roshan quickly got on top of her.

“I am going to fuck you the way you have never been fucked bitch. After getting fucked by me, you will never be able to fuck your idiotic husband and you will come back to me begging me to fuck you.” He grabbed her breasts roughly and kneaded and pinched her nipples.

Rachana cried out loudly but even she couldn’t believe the wetness she felt between her thighs. She was aroused by this rough behavior of Roshan. He slapped her tits roughly one by one almost bringing tears in her eyes. The soft skin of her tits became almost red with rough handling by Roshan but she didn’t complain. She was too aroused to stop him now. She just closed her eyes and enjoyed the rough kneading of her tits. Roshan was squeezing and slapping her tits roughly. His nails dug in the soft flesh of her tits as she wailed with pleasure and pain. Her cunt was so wet that she could feel juices flowing along her thighs wetting a patch on the bed. Rachana continued to twist and turn on the bed as Roshan merciless squeezed and slapped her tits.

“Oh Roshan, please don’t tease me so much.”She begged him desperately her heart humping against her chest. Her whole body ached for him. She couldn’t wait anymore as she caressed his chest and spread her thighs for him.

“What has your idiot husband done all these years that you are so desperate a bitch to get fucked by me?” Roshan laughed and Rachana rolled her eyes.

“I don’t want to talk about him. Now come here and fuck me. Don’t make me wait till I die.”She was almost begging him with her eyes.

Roshan smiled at her and then caressed her naked thighs with his hands. He spread her thighs apart as he got on his elbows and knees adjusting his cock right at the entrance of her sopping wet cunt. Aroma of her desire floated all over the room as Rachana’s juices leaked profusely. Rachana moaned with pleasure as Roshan’s tip touched her wet cunt. He rubbed his thick cock against her cunt couple of times as he smiled at her desperation.

“Ohh Roshan, please don’t tease me now.” She almost wanted to grab him and force his hardness into her. But she was too absorbed in the pleasure herself to bother as she waited for Roshan to take control of her body and drive her over the edge.

She moved her hand downward and touched his length. She slowly caressed his cock hoping that it will ignite the same fire within him that was driving her mad. But Roshan still held out and smiled at her. Rachana bit her lip almost incensed at his game. She tried to push his cock in her cunt. It easily slid in her moist and wet cunt as she moaned.

“Rachana you are a fucking bitch and a slut. You are so desperate for a cock that when I don’t put it in your cunt you are just helping yourself. Wait till I am through with you slut. I will fuck you so hard that you won’t be able to walk properly for a week.” He slapped her tits few more times as Rachana cried out. Then he raised her legs and held them on his shoulders. Then he finally he drove in.

“Ohh God.” Rachana wailed as Roshan forced his massive cock deep in her cunt. There was no subtleness, to gentleness about Roshan. He wanted to fuck her and he wanted to fuck her till she bled. Rachana had never felt as full as Roshan’s massive tool forced her cunt lips apart. Rachana held the bed sheet with both her hands as she tried to breathe to accommodate his massive tool in her cunt.

She closed her eyes and bit her lips as she waited for Roshan to start pounding her cunt. She was almost afraid that Roshan might actually fulfill his threat of not allowing her to walk for a week.

Roshan grabbed her neck and then with a firm push drove his cock deeper in the recesses of her cunt. Rachana writhed as she cried out with pleasure wanting more from him. She moaned as she cried out his name loudly.

Roshan started to thrust his cock in and out of her wet pussy. He caressed her thighs and slapped them hard as he fucked her hard. Rachana’s eyes widened as she received thrust after thrust from her lover. His cock had only entered her half and yet Rachana felt as if it would tear her apart. But the immense pleasure that it gave her couldn’t be discounted. She grabbed Roshan’s hands as she begged him to fuck her harder.

“Oh Roshan, please don’t stop baby. Aaah fuck me harder. Give it to me harder darling.”She wailed never knowing the kind of pleasure Roshan was able to give her. He was filling her cunt completely hitting each and every spot bringing her ever closer to orgasm.

He slapped Rachana’s tits hard again as he grabbed her hair and pulled it roughly as he started to fuck her furiously. Rachana started to writhe with pain but Roshan didn’t give a damn as he fucked her mercilessly. Rachana couldn’t believe the intense pleasure Roshan was pouring in her body. Every inch of her body was on fire as waves of pleasure coursed through her.

“Aaah Aah Roshan, please do it slowly darling.” Rachana cried out but once again Roshan slapped her tits couple of times making her cry out loudly.

“Shut up bitch. I had told you that I was going to rape you. You were fucking trying to be my lover at that time. And now that it’s the fuck time, you are asking me to go slow. I will decide how I fuck you, fucking slut.”Roshan slapped her face roughly again as he grabbed her tits and fucked her. His fingers had already started to leave red marks on her face as well as her tits.

Rachana was so confused about her feelings towards what was happening right now. On one hand she actually enjoyed the rough assault on her body by Roshan. She was incredibly aroused and turned on by him treating her like a slut. On the other she couldn’t help but feeling as if she was being raped. She couldn’t decide whether she should be disgusted by his behavior or she should be aroused. But her body and cunt were telling her the answer. She was completely wet and still horny even after Roshan had fucked her for more than 5 minutes. She knew that her husband would never be able to give her this kind of pleasure.

Roshan leaned forward as he bit her nipples lightly. He was panting heavily after fucking her non-stop for over 7 minutes. He grabbed her tits roughly again and squeezed them together and licked them.

Rachana moaned as she enjoyed the pause in his rough and severe fucking. She caressed his back as she slowed him to suck her tits. Then she spread her thighs again and wrapped them around Roshan’s waist locking him inside. Roshan kissed her passionately as he went back to drilling her cunt.

Rachana opened her eyes and watched Roshan’s back through a haze of lust. She relished the feel of the massive orgasm building inside her. Roshan grunted heavily as he felt Rachana’s cunt milking his cock trying to squeeze every drop of his cum out of him. Rachana closed her eyes as she hugged him tightly trying to keep him inside her. Roshan’s every thrust was driving her mad with lust and pushing her ever closer to precipice.

Roshan’s entire body was throbbing as he fucked Rachana. He looked at Rachana’s lusty face as she lay beneath him. Her face was contorted with pleasure as she dug her nails in the flesh of his back. She was relishing the feel of his hard cock buried deep inside her and it’s friction against her pussy walls. She was rocking her body matching Roshan’s every thrust.

She rode waves of pleasure as Roshan fucked her hard and deep. Suddenly she opened her eyes as she felt she was pushed over the edge of pleasure as her entire body quivered with pleasure. She locked her legs around his waist as wave after wave of pleasure passed through her body.

“Oh. Oh.Oh Roshan, please don’t stop baby.” She wailed pulling him ever deeper in her as she rode wave after wave of her orgasm. She panted heavily as Roshan continued to fuck her for some more time. She hugged him tightly trying to give him the same pleasure that he had given her. Roshan kept fucking her for some more time before he finally shot his load deep in her cunt.

They both lay panting in each other’s arms as they recovered and tried to catch their breaths. Rachana closed her eyes as she felt the warmth of Roshan’s body enveloping her body. She unlocked her legs and lay down and caressed Roshan’s back as he lay on top of her feeling more contended than ever before in her life.

 

Author’s note:

This story is part of an erotic book available on Amazon. The original book can be found on the link below

Indian Wife’s slave

 

 

 

Hindi Sex Story – बीवी का गुलाम

Erotic Hindi Sex Story
Hindi Sex Story – बीवी का गुलाम

Hindi Sex Story – बीवी का गुलाम

बीवी का गुलाम is a Hindi Sex Story about a hot Indian wife who cheats on her hubby and makes him her cuckold.

“अब सीधा बेडरुम मे .” प्रियंका मुस्करायी और उसने अपना सर रोशन  के कंधे पर रख दिया . रोशन  ने आसानी से उसे किसी गुडिया कि तरह उसे बेडरुम तक ले गया और उसे बेड पर पटक दिया . रोशन  ने तुरंत ही प्रियंका के उपर लेट गया और वापस उसके होंठों को चुमने लगा . लेकिन इस बार उसके दोनो हाथ प्रियंका के बडे बडे गुँबदो पर थे . रोशन  ने प्रियंका के स्तनो को जोर जोर से दबाना चालु किया तो प्रियंका कि आह निकल गयी .

“प्रियंका तेरे मम्मे इतने बडे है कि लगता है गाय जितना दूध भरा पडा है इनमे . मुझे पिलायेगी क्या?” रोशन  ने उसके साडी के पल्लु को खींचने का प्रयास किया लेकिन प्रियंका साडी एक पिन से ब्लाउज के साथ बाध रखी थी इसलिये निकली नही .

“तो पियो ना मैने कब मना किया है मेरा दूध पिने के लिये .” प्रियंका का मन डावांडोल हो गया जब उसने अपने मन मे कल्पना कि कि वो रोशन  को अपने स्तनो से दूध पिला रही है . रोशन  ने वापस उसका पल्लु हटाने का प्रयास किया और तब रोशन  को समझा कि प्रियंका ने क्लिप से उसकी साडी ब्लाउज से बाध रखी है .

“रुको मै निकालती हुं .” अब प्रियंका खुद इतनी आतुर हो चुकी थी कि वो खुद से अपने कपडे उतारने के लिये तैयार थी . उसने जल्दी से पिन को निकाल दिया और फ़िर रोशन  को अपनी आखो से इशारा किया . इस बार रोशन  ने उसका पल्लु हटा दिया और प्रियंका के बडे बडे स्तन उसकि आखो मे समा गये .

“प्रियंका, तु क्या खाती है मेरी जान? बदन का सारा मांस मम्मो मे हि जमा करके रखा है तुने .” प्रियंका धीरे से पीछे लेट गयी और उसने रोशन  को अपने उपर खिंचा . अब उसके जिस्म मे आग सी लग रही थी और उसे बुझाने के लिये उसे रोशन  चाहिये था . रोशन  ने प्रियंका के दोनो हाथों को अलग किया और फ़िर अपना चेहरा प्रियंका के स्तनो के बीच ले गया और चुमने लगा . प्रियंका ने एक हलकी से सिसकारी भरी और अपनी आंखे बंद कर ली . उसे रोशन  कि दाढी का स्पर्श बहुत हि ज्याद उत्तेजित कर रहा था .

“आह, रोशन  मै कितने दिन से इस पल का इंतजार कर रही थी.” रोशन  ने प्रियंका ब्लाउज के बटन एक के बाद एक खोलना चालु किया .

“प्रियंका एक बात बता . तेरा वो पति तुझे ठीक से चोदता नही है क्या?” प्रियंका एकदम से उसकी तरफ़ देखने लगी .

“ऐसा क्यों कह रहे हो?” प्रियंका ने अब रोशन  के शर्ट के बटन खोलना चालु किया . उसे जैसे हि रोशन  के छाती के बाल दिखे तो वो शरमा गयी . वो पहली बार किसी गैर मर्द को अपने हाथों से निर्वस्त्र कर रही थी . वो इतनी आतुर हो चुकी थी .

“अगर वो तुझे ठीक से चोदता तो तु मेरे पास क्यो आती?” रोशन  ने प्रियंका के सब बटन खोल दिये थे और उसने अपना हाथ प्रियंका की काली ब्रा के अंदर डाल दिया . रोशन  के खुरदरे हाथों का स्पर्श लगते ही प्रियंका सिहर उठी . अब उसका यौवन रस उसकी जाँघो को गीला कर रहा था .

“रोशन  तुम्हे क्या लगता है? हर औरत क्या सिर्फ़ चुदवाने कि लिये ही आती है गैर मर्द के पास?” लेकिन इसका जवाब खुद प्रियंका कि चुत ही दे रही थी . रोशन  अब उसकी कमर मे हाथ डालकर प्रियंका कि साडी खोल रहा था . उसका जवाब देने का कोई मूड नही था . उसने जोर से प्रियंका की साडी को खींचा और उसे पेटिकोट से बाहर निकाला और फ़िर पुरा उतार कर नीचे फ़ेक दिया .

रोशन  फ़िर से प्रियंका के गले और उसके गालों कि चूमने लगा तो प्रियंका का दिल डोल उठा . उसने रोशन  का शर्ट खींचना चालू किया तो रोशन  ने उसे उतारने का अवसर दिया . प्रियंका ने रोशन  का शर्ट पुरा उतार दिया और उसे अपनी साडी कि ही उपर फ़ेक दिया .

अब रोशन  ने प्रियंका की पीठ के पीछे हाथ डाला और उसकी ब्रा के दोनो हूक खोल दिये . उसके बाद उसने प्रियंका ने उसके हाथ उपर कर लिये और रोशन  ने उसकी ब्रा उतार कर फ़ेक दी .

“प्रियंका, तेरे मम्मे देख कर तो मै कितने दिनों से पागल हो रहा हुं मेरी जान .” रोशन  ने अपने दोनो हाथ प्रियंका के स्तनो पर रखे और धीरे से उन्हे सहलाया .

“तो अब तो तुम्हारे सामने ही है मेरे मम्मे . जितना चाहे चुसो मेरे मम्मो को .” प्रियंका ने रोशन  को एक कामातुर स्त्री कि तरह न्योता दे दिया .

प्रियंका ने अपने जिस्म को पुरी तरह से रोशन  को समर्पित करने का इरादा कर लिया था . उसने अपनी दोनों बाहे रोशन  की छाती पर रखी और उसे अपने मुलायम हाथों से सहलाने लगी . उसके हाथों का स्पर्श होते ही रोशन  भी तडप उठा और उसने अपना मुंह प्रियंका के बडे बडे स्तनो पर ले गया और उसके दाये स्तन को अपने मुंह मे ले लिया .

प्रियंका के मुंह से सिसकी निकल गयी जब उसे अपने निप्प्ल पर रोशन के दातो का अनुभव हुआ . उसकी गर्म लार प्रियंका के स्तन को भिगो रही थी . रोशन  एक बार उसे चूस रहा था तो एक और पल मे अपने दाँत प्रियंका के स्तनो की मुलायम त्वचा मे गडा रहा था . अब प्रियंका आवाके से बाहर हो चुकी थी . उसके मुंह से अब सिसकियों के बौछार निकल रही थी और वो उन्मत्त अवस्था मे थी . हवस और वासना ने अब प्रियंका को पुरी तरह से बेकाबू कर दिया था .

रोशन  ने प्रियंका के बायें स्तन पर अपना मुंह जमाया तो प्रियंका के मुंह से आह निकल गयी . वो दोनो अब कुछ नही बोल रहे थे . दोनो ने अपने आप को पुरी तरह से हवस के हवाले कर दिया था .

रोशन  प्रियंका के दोनो स्तन अपने मुंह से चाटने और चुमने लगा . रोशन  ने प्रियंका के पेटिकोट का नाडा खोल दिया और प्रियंका धीरे से उसके बाहर आ गयी . रोशन  फ़िर से प्रियंका के मम्मो की तरफ़ आकर्षित हो गया . अब रोशन  जोर जोर से प्रियंका के स्तनो को काट रह था और हर बार प्रियंका सिसक रही थी . लेकिन उसे इतना उन्माद और आनंद आज तक किसी ने भी नही दिया था . वो काँप रही थी और रोशन  कि बाहो मे मचल रही थी .

तभी प्रियंका को अपनी जाँघो के बीच कुछ अजीब सा स्पर्श महसुस हुआ और जैसे हि उसे कमझ मे आया कि वो क्या है, वो दिवानी सी हो गयी . उसने रोशन  के कानो को चुमना चालु किया और धीरे से रोशन  के कानों मे बोली .

“तुम्हारा बाहर निकालो ना . कब से राह देख रही हुं कि कब निकालोगे .” प्रियंका ने मचलकर कहा . लेकिन रोशन  ने कोइ जवाब नही दिया वो उसके मम्मो कि चुसते हि रहा . प्रियंका वैसे ही तरसती रही . आखिर मे उसने अपना दाया हाथ रोशन  कि टांगो के बीच डाला और धीरे से सहलाया . उसे धक्का हि लगा जब उसने रोशन  का लंड अपने हाथ से सहलाया . रोशन  का लंड कम से कम 10 इंच का तो था ही शायद और भी बडा हो . उसकी मोटाई भी काफ़ी थी . इस के सामने अनिकेत का लंड एकदम ही छोटा और पतला था .

“रोशन  , कितना बडा है तुम्हारा ? तुम्हारी बीवी ने इसके लिये ही तलाक दिया क्या तुम्हे? इतने बडे लंड से चुदवाते चुदवाते ही जान निकल जाती होगी बेचारी की . ” प्रियंका हंस कर बोली लेकिन मन मन हि मन मे उसके लड्डू फ़ुट रहे थे .

अनिकेत के सामने रोशन  का तगडा लंड देखकर प्रियंका का दिल खुशी से डोल उठा .

“वो साली गधी थी . उसे पर्वा हि नही थी के वो कितनी खुश किस्मत थी कि उसे मेरे जैसे तगडे लंड का मालिक मिला . लेकिन तुझे शायद पहली बार मे ही समझ मे आ गया कि तु कितनी खुश किस्मत है . है ना मेरी जान?” रोशन  ने उसकी मम्मो मे वापस अपना मुंह डाल दिया . प्रियंका मचल सी गयी और उसे बोला .

“खुश किस्मत तो तब हुंगी न जब निकलने दोगे . अदर ही छुपा के रखोगे तो मै क्या खुश किस्मत?” वो हंसने लगी . रोशन  ने अपने आप को उठाया और फ़िर एक हि झटके मे उसने अपनी पैट उतार ही . जैसे हि उसकि पैंट निकली प्रियंका की साँस हि रुक गयी . रोशन  का लंड देखकर उसके मन मे एक शंका आयी . उसे डर लगने लगा कि वो इतना बडा लंड अपनी चुत मे ले पायेगी या नही?

उसने रोशन  के लंड कि तरफ़ हाथ बढाया और धीरे से अपनी हाथ की उंगलियों उसके लंड पर फ़ेरायी .

“आह, साली कुतिया रंडी है तू एकदम . क्या उंगलियों है तेरी . लंड देखा नही कि हाथ लगाना चालू . हट पीछे और अपनी जाँघे फ़ैला के लेट जा . ऐसे चोदुगा तुझे कि वापस अपने उस चुतिया पती से चुदवाने के लायक हि नही रहेगी . बार बार मेरे लंड से चुदाने के लिये आयेगी हमेशा .” रोशन  ने अपने दोनो हाथ प्रियंका के स्तनो पर रखे और फ़िर जोर से उसके मम्मो पर चांटा मारना चालू किया . प्रियंका जोर से चिल्ल्यी लेकिन उसे इतना उन्माद शायद पहली बार मह्सुस हुआ जब रोशन  अपने हाथों  से उसके मम्मो पर मार रहा था . रोशन  ने धडा धड 8-10 बार प्रियंका के मम्मो पर चांटे मारे तो उसकी त्वचा लाल लाल हो गयी . लेकिन प्रियंका कि चुत पुरी गीली हो गयी थी .

प्रियंका ने अपनी आंखे बंद कर ली और रोशन  के खुरदरे हाथों का अपने स्तनो पर आनंद लेने लगी . रोशन  उसके स्तनो को जोर जोर से मसल रहा था . उसके नाखूनो का स्पर्श प्रियंका को मादित कर रहा था . रोशन  अपने नाखूनो से प्रियंका ने निप्प्लेस दबा रहा था और प्रियंका उसकी बाहो मे तडप रही थी .

“आह रोशन   पांडे, इतना भी मत तडपाओ मुझे . कितने दिनो कि प्यासी हुं तुम्हारे लिये . अब मुझसे सहा नही जाता . अब तुम मेरी प्यास बुझाओ .” प्रियंका ने अपनी जांघों को उपर किया और उन्हे रोशन  के लिये फ़ैला दिया .

“क्यो तेरा वो चुतिया पती क्या करता है जो तु इतने दिन से प्यासी है?” रोशन  ने हंसकर पुछा तो प्रियंका ने अपनी आंखे मटका दी और बोली .

“उसके बारे मे बात नही करनी मुझे .” इतना कह्कर वो भी हंसने लगी . रोशन  ने प्रियंका की जाघों को अपने हाथो से थोडा और फ़ैलाया और फ़िर अपना लंड प्रियंका की गीली चुत के दरवाजे से सटा दिया . जैसे हि उसके लंड का स्पर्श हुआ तो प्रियंका के मुंह से एक सिसकी निकली . उसने अपना हाथ रोशन  के लंड पर रख दिया और उसे धीरे से अपनी चुत के अन्दर डालने की कोशिश करने लगी . उसकी चुत इतनी गीली थी उसका यौवन रस उसकी जाघों के बीच बह रहा था .

“साली रंडी कुतिया, इतनी दिवानी हो चुकी है लंड के लिये कि खुद ही हाथ लगाकर अपनी चुत मे डाल रही है . रुक कुतिया, तुझे ऐसा सबक सिखाता हुं कि जिंदगी भर याद रखेगी .” ये कहकर रोशन  ने प्रियंका की टांगें अपने हाथों से पकडी और जोर से धक्का मारा .

प्रियंका के मुंह से जोर से चीख निकल गयी जब रोशन  का लंड उसकी चूत मे घुस गया . प्रियंका को इतना दर्द आज तक कभी जिंदगी मे नही हुआ था . उसने दोनो हाथो से बेड्शीट पकडी और फ़िर जोर जोर से साँस लेने लगी . लेकिन उसकी आंखे अभी भी बंद थी . उसने अपने होठों को अपने दातो के बीच दबाया और फ़िर रोशन  का इंतजार करने लगी . प्रियंका ने मन मे सोचा की आज रोशन  शायद उसकी चूत को फ़ाडकर ही छोडेगा .

अब रोशन  किसी मदमस्त साँड कि तरह प्रियंका की जाँघो के बीच अपना लंड आगे पीछे हिलाने लगा . लेकिन इस बार प्रियंका रोशन  का लंड सहन नही कर पायी . उसका लंड प्रियंका की गीली चूत मे सिर्फ़ आधा ही समाया था लेकिन फ़िर भी प्रियंका को ऐसे लग रहा था कि वो अब बचेगी नही . लेकिन रोशन  ने धीरे धीरे अपना लंड प्रियंका कि चूत मे हिलाने लगा तो प्रियंका मे भी थोडी हिम्मत आ गयी .

“आह . आह् . उई मां . धीरे धीरे करो ना . पहले ही तुम्हार लंड इतना बडा है उपर से कितने जोर से धक्के मार रहे हो .” प्रियंका ने चिल्लाते हुए कहा लेकिन रोशन  अब उसकी सुनने कि लिये तैयार नही था .

उसने जोर से प्रियंका के गाल पर एक झापड मारा और फ़िर उसके बाल अपने एक हाथ से खिंचने लगा . प्रियंका दर्द से तडपने लगी लेकिन फ़िर रोशन  ने उसके बालो को कसके पकडा और जोर जोर से उसे चोदने लगा . प्रियंका दर्द के मारे छ्टपटाने लगी लेकिन रोशन  बेदर्दी से उसे चोदता गया .

“आह , आह , रोशन  क्या कर रहे हो . मै मर जाउँगी . धीरे करो ना .” प्रियंका गिडगिडाने लगी लेकिन रोशन  ने फ़िर से एक बार उसके स्तनो पे दो तीन झापड और मारे .

“चुप रह कुतिया . साली रंडी कही की . बोला था न तुझे पहले ही कि तेरा रेप करुंगा . तब तो बडी प्रेमिका बन रही थी . बोल रही थी घर चलो . और अब चोदने का वक्त आया तो बोल रही है धीरे करो . साली रांड .” रोशन  ने फ़िर से प्रियंका के गाल पर एक और तमाचा मारा . इस बार तो उसके नाजुक गालो पे रोशन  की उंगलियों के लाल निशान साफ़ दिखाई दिये . प्रियंका की आंखो मे आंसू आ गये . उसे ऐसा लग रहा था कि शायद उसका सच मे रोशन  बलात्कार कर रहा है .  लेकिन दुसरी तरफ़ उसके दिल मे दुसरी एक अजीब से भावना जाग रही थी . रोशन  का उसे कुतिया और रांड कहना , उसका बार बार चांटा मारना प्रियंका को उत्तेजित कर रहा था . वो अब इतनी उत्तेजित थी और उसकी चुत इतनी गीली थी कि रोशन  क लंड अब पूरी तरह से उसकी चुत मे समा गया था और अब वो उसे इतना आनंद दे रहा था जो अनिकेत आज तक उसे कभी भी नही दे पाया था .

अब रोशन  किसी सुअर कि तरह चिल्ला चिल्ला कर प्रियंका को चोद रहा था . प्रियंका ने अपने दोनो हाथो को रोशन  कि पीठ पर डाला और उसे कस कर अपनी बाहो मे जकडा .  रोशन  का लंड प्रियंका कि चुत मे हर उस जगह को छू रहा था जिस जगह पर अनिकेत कभी गया हि नही था . प्रियंका धीरे धीरे से रोशन  कि पीठ को सहला रही थी

प्रियंका ने रोशन  के चेहरे को देखा और देखते हि उसे समझ मे आ गया कि वो अब आनंद कि परमोत्त्म सीमा पर है . एकदम से, रोशन  ने प्रियंका के स्तनो के जोर से हाथो से पकडा और उसका शरीर काँपने लगा . प्रियंका ने भी उसे अपनी बाहो मे कस के जकडा और एकदम से उसे अपनी चूत मे रोशन  के गर्म वीर्य कि फ़ुहार महसुस हुई . रोशन  ने और 3-4 मिनट तक धक्के मारता रहा और फ़िर वो प्रियंका की बाहो मे लिपटकर अपनी साँस सँभालने लगा .प्रियंका भी रोशन  के जिस्म की गर्माहट महसुस करते हुए उससे लिपट कर पडी रही .

AUTHOR’S NOTE:

This is part of an erotic Hindi Sex story available on Amazon.com. You can read the original sex story by visiting the following link.

बीवी का गुलाम

Hindi Sex Story – बीवी का प्रेमी

Hindi Sex Story
Hindi Sex Story – बीवी का प्रेमी

Hindi Sex Story

बीवी का प्रेमी is an erotic Hindi Sex Story in cuckold genre in Hindi. This story is part of an erotic Hindi novel available on Amazon.com

To visit the original novel, please visit the following link.

https://goo.gl/nK3F7t

बीवी का प्रेमी

 

उसकी कल्पना ने उसे दगा नहीं दिया था. उसे वही दिखा जिसका उसे डर था.

वो दोनों दीवार से टिके हुये खड़े थे. श्रुतिका की पीठ दीवार पर टिकी थी और रोशन उसकी गर्दन को चूम रहा था. श्रुतिका की बाहें रोशन के गले में थी और वो उसे कास कर अपनी बाहों में पकड़ी हुयी थी. उसकी आंखें बंद थी और वो हलके से रोशन के कान में कुछ  कह रही थी. उसके शब्द एकदम अस्पष्ट थे और अविनाश को कुछ समझ नहीं आ रहा था.

श्रुतिका अब भी साडी पहने हुये थी लेकिन रोशन अब सिर्फ एक शार्ट पहने हुये था. उसकी कमर के ऊपर कुछ भी नहीं था.

“आह रोशन डार्लिंग. आय लव यू सो मच डार्लिंग.” वो रोशन के कान में कह रही थी. उसी पल श्रुतिका को अविनाश के वहां आने का अहसास हुआ और उसने अपनी आंखे खोली. अब रोशन को भी वो समझा और उसने मुड़कर अपनी माशूका के पती को देखा और अजीब सा हंसा.

“अविनाश, अब मैं तुम्हे दिखाता हूं की एक असली मर्द तेरी बीवी जैसी मदमस्त और भरी हुयी औरत को कैसे खुश रखता है. अगर तुम उसे एक असली मर्द की तरह खुश रख सकते तो वो यहां मेरे साथ कभी नहीं आती. पर अब वो मेरे साथ है और अब वो मेरी है. इसलिये अब देखो की एक मर्द तुम्हारी बीवी को कैसे खुश करता है.” इतना कहने के बाद उसने श्रुतिका के लंबे खुले हुये बालों को झटका देकर खिंचा और उसे अपनी तरफ खिंचा. एक झटके में उनके होंठ एक दुसरे से टकराये और वो एक दुसरे को पागलों की तरह चूमने लगे.

श्रुतिका ने भी अपना मुंह खोल दिया और रोशन की लपलपाती हुयी जीभ उसके मुंह में घुस गयी. वो कुछ पल तक एक दुसरे वैसे को चूमते रहे. फिर रोशनने श्रुतिका को झटके स खिंचा और वो उसके पीछे खड़ा हुआ.अब श्रुतिका का चेहरा अपने पती की तरफ था और रोशन उसके पीछे खड़ा था. रोशन की पीठ दिवार की तरफ थी.

रोशन ने फिर एक बार श्रुतिका के बालों को खिंचा. श्रुतिका लगभग चिल्लायी और रोशन ने उसका चेहरा अपनी ओर करते हुये उसके रसीले होठों को एक बार और चूमा. उसी वक्त उसने अपने दोनों हाथ श्रुतिका  के स्तनों के ऊपर रखे और उन्हें मसलना शुरू किया. फिर उसने श्रुतिका को गर्दन की चूमना शुरू किया और उसी वक् उसके स्तनों को मसलता रहा. कुछ पल बाद उसने श्रुतिका की साडी का पल्लू बाजू में हटा दिया.

फिर उसने बिना कुछ कहे श्रुतिका के ब्लाउज के सब हुक तोड़ दिये और उसके कप्स को बाजू में किया. अविनाश की नजर में अपनी बीवी बड़े मम्मे आये लेकिन उनपर कब्ज़ा रोशन के हाथों का था. उसने श्रुतिका के मम्मे हाथ में लेकर उन्हें ब्रा के ऊपर से ही दबाना शुरू किया.

“ऊ मां रोशन, कितने जोर से दबा रहे हो. दर्द हो रहा है. आज इतना रफ क्यों हो मुझसे? मेरा पती देख रहा है इसलिये ना? देखो मेरा ब्लाउज फाड़ दिया तुमने.” इतना कहकर उसने अपने पती की तरफ देखते हुये एक हलकी सी स्माइल दी. फिर उसने अपना हाथ पीछे ले जाकर रोशन के लंड को टटोलने की कोशिश की.

“डार्लिंग, तेरे इस पती को तुझ जैसी मदमस्त और सेक्सी औरत को कैसे संभालते है ये पता नहीं है, इसलिये उसे सिखाना पड़ेगा. उसे लगता है की तू एक सीधी साधी औरत है. पर मैं उसे दिखाने वाला हूं की तू कैसी चुदक्काड रांड है.” इतना कहने के बाद रोशन ने श्रुतिका के बड़े मम्मे उसकी ब्रा से बाहर निकाले.

अविनाश अपनी बीवी और उसके आशिक के बीच का ये सेक्सी खेल मंत्रमुग्ध होकर देख रहा था. रोशन अब श्रुतिका के बड़े मम्मे अपने हाथो से सहला रहा था और उन्हें जोर से मसल रहा था. उसके स्तन किसी बलून की तरह रगड़ रहे थे. उसके मुंह से मादक आवाजे निकल रही रही और वो एकटक अपने पती की आंखों में देख रही थी. कुछ पल उसने अविनाश की आंखों में आंखे डालकर देखा और फिर अपनी आंखें बंद कर ली और अपना सर रोशन के कंधो पर रख दिया.

उसके बार वो अपने होठ दातों के बिच दबाते हुये मद भरी आवाजें निकलने लगी. रोशन के हाथों कर उसके स्तनों पर स्पर्श जैसे उसके बदन में आग लगा रहा था. रोशन उसकी उंगलियों के बीच श्रुतिका ने निप्पलस दबा रहा था और वहां एक अच्छा खासा लाल रंग का दाग आया था. रोशन श्रुतिका की गर्दन को अपनी जीभ से चाट रहा था और हाथों से उसके मम्मे दबा रहा था.

“देख अविनाश, तेरी बीवी कैसे नाचती है मेरे ताल पर. उसके मम्मों को हाथ लगते ही कैसी आवाजे निकल रही है उसके मुंह से.”रोशन फिर से अविनाश की तरफ देखकर बोला. अविनाश का मुंह खुला था और वो अपनी बीवी की तरफ देख रहा था. वो अब रोशन की बाहों में तिलमिला रही थी. उसकी योनी का रस पुरे कमरे को महका रहा था. रोशन श्रुतिका के मम्मों को अच्छी तरह से मसल रहा था और उसके स्तनों की नाजुक त्वचा लाल हो रही थी.

“उह मां रोशन. आय लव यू बेबी.”अविनाश अपनी बीवी और रोशन का ये मदमस्त सेक्स का खेल खुली आंखों से देख रहा था. लेकिन उसका खुद का लिंग अब तन रहा था और खड़ा हो रहा था. उसे यकीन नहीं हो रहा था की उसकी बीवी एक गैर मर्द को उसकी आंखों के सामने आय लव यू कह रही थी.

एक पल रुककर रोशनने श्रुतिका के स्तनों पर दो तीन झापड़ मारे और श्रुतिका तड़प उठी.

“देख तेरी बीवी की मम्मे कैसे लाल हो रहे है मेरे हाथों में आकर. उसे अच्छा लगता है जब मैं उसे ऐसे रफ ट्रीट करता हूं उसे. तुम्हे तो पता भी नहीं रहेगा? उसके मम्मे झापड़ मार कर लाल हो गए तो वो बहुत मूड में आ जाती है वो. है ना डार्लिंग?.रोशन पहले अविनाश को बोला और फिर श्रुतिका से कहा.

“हां जानू लेकिन मेरे मम्मों को सिर्फ तुमने लाल किया तो ही अच्छा लगता है. सिर्फ तुमने.” ये कहते हुये वो अपनी पती की आंखों में आंखे डालकर देख रही थी

अब रोशनने फिर एक बार श्रुतिका को अपनी ओर मोड़ा और उसे दीवार की तरफ पीठ करके खड़ा किया. अब रोशन की पीठ उसकी तरफ थी और उसे श्रुतिका का चेहरा दिख रहा था. रोशन ने श्रुतिका की गर्दन पर अपने होठ टिकाये और वो उसकी गर्दन को चूमने लगा.

श्रुतिका ने रोशन का चेहरा नीचे धकेलने की कोशिश की और वो उसके कान में कुछ कहने लगी. उसकी सांसे धीमे से चल रही थी और उसके मम्मे हलके हलके ऊपर नीचे हो रहे थे.

“रोशन, मेरे मम्मों को चाटो ना जानू. बहुत आग लगी है मेरे जिस्म में और वो सिर्फ तुम बुझा सकते हो.” रोशनने जैसे श्रुतिका की इच्छा पूरी करने के लिये अपना मुंह उसके भरे हुये रसीले मम्मों की बीच दबाया. उसकी दाढ़ी का स्पर्श उसके भरे हुये मम्मों को होते ही श्रुतिका सिहर उठी.

“आह रोशन, चाटो ना जानू मेरे मम्मों को. मेरे मम्मे सिर्फ तुम्हारे लिये हैं  जान. और चाटो और गीला करो मेरे मम्मों को.”श्रुतिका आवेग में आकर रोशन के कान में हलके से जैसे गुनगुना रही थी. उसके हाथ रोशन की पीठ और गर्दन सहला रहे थे और उसके बालों में घूम रहे थे. रोशन ने उसका दायां स्तन अपने मुंह में लेते ही प्रियंका तड़प उठी. उसकी जीभ का निप्पल पर स्पर्श होने से तो उसकी बाहों में मचल रही थी. उसका पूरा बदन जैसे आग में झुलस रहा था. रोशन अब उसके मम्मों के नीचे वाली जगह को अपनी जीभ से गीला कर रहा था औत चाट रहा था. उसके दातों का स्पर्श होते ही श्रुतिका तड़प उठती थी. लेकिन अब उसके जिस्म में सिर्फ हवस और वासना भरी थी और उस दर्द की कोई परवा नहीं थी.कुछ देर उसके दायें स्तन को मन माफिक चूसने के बाद रोशन ने अब उसका बायां स्तन अपने मुंह में लिया.

“हो गयी अब तुम्हारे ककोल्ड बनने की ख्वाहिश पूरी? नीचे तो देखो कितना बड़ा हो गया तुम्हारा. सच में तुम ककोल्ड हो मेरे. मजा आ रहा है ना अपनी बीवी को दुसरे मर्द की बाहों में देखकर? अभी तो हम बेड तक भी नहीं पहुंचे है और तुम्हारा ये हाल है.”श्रुतिका हंसी और उसकी आंखें अविनाश के तनते हुये लंड पर गयी. अविनाश को अब खुद की ही शर्म आ रही थी. उसे रोशन से मिले हुये सिर्फ एक घंटा ही हुआ था और उसे वो अच्छा नहीं लग रहा था. लेकिन फिर भी अपनी बीवी को उसकी बाहों में नंगा देखकर उसका लंड खड़ा हो रहा था. उसकी बीवी मम्मे रोशन को चाटते हुये देखकर उसे ऐसे नशा चढ़ रहा था जैसे की वो खुद ही श्रुतिका के मम्मे चाट रहा हो.

वो बिना कुछ कहे रोशन को श्रुतिका के मम्मे चाटते हुये देख रहा था.

“अविनाश, मैं तुम्हारे जवाब का इंतेजार कर रही हूं. मजा आ रहा है क्या तुम्हे?”श्रुतिका ने उसे पूछा लेकिन इस बार उसकी आवाज में थोडा ज्यादा कठोरपन था. अविनाश को समझ में आया की श्रुतिका जान बुझकर उसके मुंह से ये सुनना चाहती है और रोशन को भी सुनाना चाहती है.

“हां डार्लिंग, रोशन को तुम्हारे मम्मे चूसते हुये देखकर मेरा लंड खड़ा हो रहा है.”अविनाश ने अपनी बीवी को देखते हुये कहा और उसका आपने आप से काबू खो गया.

“अच्छा है क्योंकि आज के बाद तुम हम दोनों को ऐसे काफी बार देखने वाले हो.” ये रोशन ने उसे कहा और फिर वो वापस श्रुतिका के मम्मे चूसने में लग गया. श्रुतिका ने अपनी आंखें बंद कर ली और और वो रोशन के बाल सहलाने लगी.

“आह रोशन, धीरे से काटो जानू. मेरे मम्मे है. पूरा अभी लाल कर के छोड़ डोज तो कल क्या खाओगे? कल ही खाना है ना. थोडा ध्यान रखकर काटो.”लेकिन ये कहते हुये भी उसने अपने हाथ रोशन की गर्दन पे से नहीं हटाये थे. उसे रोशन का मुंह अपने मम्मों पर चाहिये था.

अपनी बीवी और रोशन के बीच का ये मादक दृश्य देखकर अविनाश अब होश खो चूका था और खुद अपने लंड को टटोल रहा था. उसे शर्म आ रही थी लेकिनउसी वक्त उसे ऐसे लग रहा था जैसे उसका जिस्म हवस की आग में झुलस रहा था. वो हलके से पैंट के ऊपर से ही अपने लंड को छू रहा था और सहला रहा था.

“मुझे मेरा गिफ्ट तो बताओ जानू.”श्रुतिका ने हंसते हुये हलके से अपना हाथ रोशन की जांघों के बीच लगाया. वो उसकी शोर्ट के बटन खोलने लगी. बटन खोलने के बाद उसने उसकी ज़िप भी खोल दी और रोशन का बड़ा लंड उसके हाथ में आ गया. उसने रोशन के लंड को हाथ से सहलाया और रोशन के मुंह से एक सिसकी निकल गयी.

उसे ऐसा लगा जैसे उसके जिस्म से करंट जा चूका है. उसने श्रुतिका के कूल्हों को कसकर पकड़ा और अपनी तरफ खिंचा और उसके होठों पर अपने होठ रखकर चूसने लगा. फिर एक बार उन्होंने मेरे सामने ही एक लंबा चुंबन लिया. अविनाश अब बेबस हो कर अपनी बीवी और उसके आशिक की रतिक्रीड़ा देख रहा था.

श्रुतिका हलके हलके रोशन के लंड को सहला रही थी और वो उसके हाथ में काफी बड़ा हो गया था और तानकर सेवा के लिये तैयार था. रोशनने श्रुतिका के होठों से अपने होठ हटाये और हांफते हुये उससे कहा.

“डार्लिंग, अब घुटनों के बल बैठ जा और मेरे इस गिफ्ट को अपने मुंह में ले जल्दी से. बड़ा होगा तभी तो तुझे खुश करेगा ये. कबसे तुम्हारे मुंह और होठों के लिये तरस रहा है. सुर तेरे उस ककोल्ड पती को बता की तू कैसे चूसती है.” ये कहते हुये रोशन अविनाश की तरफ देख रहा था. लेकिन अविनाश की नजर अपने बीवी के गोर और नग्न मम्मों की तरफ थी. वो अपना ताना हुआ लेकिन छोटा सा लंड हिला रहा था.

श्रुतिका ने फिर एक बार अपने पती की तरफ देखा. उसकी आंखों में अब एक अजीब स नशा था. वो अपनी नशीली आंखों से अविनाश की तरफ कुछ पल के लिए देखती रही. फिर बिना कुछ कहे वो अपने घुटनों के बल पर बैठ गयी. उसके बाल पीठ पर खुले थे. होठों का लिपस्टिक अब इधर उधर फ़ैल गया था. उसके बड़े बड़े मम्मे ब्रा के बाहर थे और उस पर रोशन के दातों से बने हुये लाल दाग थे. उसका ब्लाउज फटा हुआ था. साडी अब भी कमर में लटकाई हुयी थी.

अविनाश की आंखों के सामने श्रुतिका ने रोशन का लंड अपने हाथ में लिया और हलके से उसे सहलाया. फिर वो अपना मुंह उसकी तरफ लेकर गयी और उसपर अपने गाल घिसने लगी. उसने अपनी आंखें बंद कर ली थी और उसके नाक में अब रोशन के वीर्य की खुशबु जा रही थी और उसे और भी बहका रही थी.

रोशन श्रुतिका के मम्मों को अपनेहाथ से हिला रहा था और मसल रहा था. दुसरे हाथ से उसने श्रुतिका के गाल को सहलाया तो श्रुतिका सिहर गयी. फिर उसने अपना हाथ उसकी गर्दन के पीछे ले जाकर उसके चेहरे को अप्नेलंद की तरफ खिंचा. श्रुतिका एक पल के लिये रुकी लेकिन फिर उसने अपने आप को रोशन के हवाले कर दिया और अपना मुंह खोल दिया. एक पल में रोशन का बड़ा सा लंड श्रुतिका के मुंह में था.

अविनाश को रोशन का लंड देखते ही जैसे सांप सूंघ गया था. उसका आकर देखकर ही उसके जैसे होश ही उड़ गए थे. उसे ऐसे लगा जैसे वो श्रुतिका को फाड़ कर ही रख देगा. उसको यकीन ही नहीं हो रहा था श्रुतिका इतना बड़ा लंड अपने अंदर समा पायेगी.

पर इस वक्त श्रुतिका उसे अपने मुंह में लेकर किसी लोलिपॉप की तरह चूस रही थी. अविनाश को यकीन नहीं हो रहा था की उसकी सीधी साधी बीवी इतनी जल्दी बदल सकती है और किसी गैर मर्द का लंड अपने मुंह में ले सकती है. रोशन ने अब श्रुतिका के बालों को अपने हाथ से कस कर पकड़ रखा था और श्रुतिका उसे मुखमैथुन का आनंद दे रही थी. ये सुख आज तक उसने अविनाश को कभी भी नहीं दिया था.

रोशन अब उन्माद से चीख रहा था. उसने अपना सर पीछे की तरफ धकेला और अपनी आंखे बंद कर ली. श्रुतिका का गिलौर गर्म मुंह अब उसे इतना सुख दे रहा था जो उसने आज तक कभी भी नहीं देखा था. श्रुतिका उसके लिंग को हाथ में पकड़ कर अपना मुंह आगे पीछे हिला रही थी और उसे स्वर्गसुख दे रही थी. रोशन की आंखें बंद थी और वो हलके से श्रुतिका के बालों को सहला रहा था.

अब उन दोनों ने अपने आप को पूरी तरह वासना को समर्पित कर दिया था. वो दोनों अब जैसे भूल ही गए थे की अविनाश वहीँ खड़ा होकर उन दोनों की ये मादक रतिक्रीड़ा देख रहा है. और अब उन दोनों को अविनाश को निचा दिखाने की भी कोई इच्छा नहीं थी. अविनाश अपना लंड हाथ से हिलाते हुये उन्हें देख रहा था.

 

Author’s Note:

This story is part of an erotic Hindi cuckold novel named “बीवी का प्रेमी” which is available on Amazon on the below mentioned link.

बीवी का प्रेमी

Hot Story – Making him a cuckold

Making him a cuckold
Making him a cuckold is a hot story in cuckold genre.

Hot Story – Making him a cuckold

 

Now as they entered the flat, Sumit held Shrutika’s hand in her hand. He closed the door behind them. Then he watched Shrutika go towards the kitchen. Sumit went and sat on the sofa.

“Bring me some water honey.”   He shouted towards the kitchen where Shrutika had gone. After few moments, Shrutika came out with a glass of water in her hand. She was wearing a sleeveless golden colored salwar kameej. He dupatta was riding high on her neck and Sumit could see her sexy naked arms. He could also see the full shape of her lovely big breasts. It was those big tits of hers that had made him fall for her. He patted his thigh with his hands and Shrutika smiled.

Then she sat down in Sumit’s lap as she gave him glass. Sumit drank water and then put down the glass.

He then wrapped his hands around Shrutika’s waist and pulled her closer to him. He kissed Shrutika’s lips as he moved his hands upwards and slowly pressed her full breasts.

Shrutika moaned with delight and then broke the kiss for a moment. Then she put her head on Sumit’s shoulder. Sumit grabbed her open hair and kissed her neck. His hands continued to grope Shrutika’s full tits as he kissed.

“Oh Sumit, you drive me crazy when you do that.” She wrapped her hands around his neck and murmured. She felt like her entire body was on fire. Sumit slowly moved both his hands on Shrutika’s naked arms and started to caress them. He kissed her lips for a moment before stopping.

“So baby, did you tell your husband about us?” He continued to caress Shrutika’s arms with his hands.

Shrutika looked in her lover’s eyes as she replied.

“I haven’t told him anything directly, but I have given him lot of hints. He noticed the way I have changed. He noticed your car and chauffer. He also noticed the love bites you have given on my tits. So I am sure that he is thinking about that and I am sure he knows about us. I even made him lick my cunt yesterday immediately after we reached home.  That was just couple of hours after you had fucked me. I guess that he smelled your semen in my cunt. But I didn’t allow him to say anything and he was tired after that. ” Sumit buried his face in Shrutika’s cleavage that he was able to see in front of him. He kissed her cleavage few times before speaking.

“Why don’t you just tell him honey? Why don’t you just tell him that you have a lover? That’s what he has always wanted, isn’t it? He himself told you that he wanted to be cuckolded. So what is the problem?” Sumit slowly put his hands under Shrutika’s kameej and tried to pull it upwards.

Shrutika raised both her hands so that Sumit was able to remove her kameej. As he did so, she replied.

“Don’t worry baby. He will know about us today.” She again wrapped her hands around Sumit’s neck as he watched her lovely full breasts in her black bra. Her skin was very fair and her tits were big and ready to pop out of the flimsy and thin bra that she was wearing.

Sumit moved his hands behind Shrutika’s back and unhooked the bra. Then he quickly removed it out of Shrutika’s sexy arms so that her lovely tits were completely naked. Sumit pulled her close to his face and buried it in Shrutika’s chest. Shrutika threw her head back with delight as she felt Sumit’s mouth sucking on her tits one by one.

Sumit held Shrutika between his arms as he sucked on her tits. His tongue was flicking in and out of his mouth as he licked Shrutika’s big tits. Shrutika was moaning with pleasure as she held Sumit’s head with her hands. Every now and then she shivered a bit as she felt Sumit’s teeth on the soft skin of her tits. He continued to bite her tits softly just as he always used to do. Shrutika slowly pushed him away from her.

“Let me remove your clothes honey.” Sumit raised his arms above his head.

Shrutika removed Sumit’s shirt through his arms and threw it aside. He was now naked above waist. Shrutika slowly caressed his hairy chest with both her hands. She continued to caress his chest but finally moved her hands towards Sumit’s crotch.  She smiled at him as she unzipped his pant and then put her hands inside it. She knew that Sumit never wore any underpants so her hand touched Sumit’s big cock.

Shrutika slowly unbuttoned the jeans Sumit was wearing and then started to pull it down. Sumit raised himself a bit as Shrutika removed it from his legs. He was completely naked and he quickly removed Shrutika’s salwar as well and threw it down on the floor.

Shrutika laughed as she touched his large cock.

“Today you haven’t wasted any time in getting naked. Earlier you used to take lot of time getting naked. Today, we are not here even for 5 minutes and we are naked.” Sumit pulled Shrutika closer and kissed her neck. Shrutika also wrapped her hands around his neck as she sighed. She loved it when Sumit kissed her on the neck.

Sumit pushed Shrutika so that she now lay on the sofa with her head resting on the arm of sofa. Sumit whispered something in Shrutika’s ear. She smiled and then she raised her right leg and put it on the back of the sofa. Her left leg was dangling on the side of the sofa just touching the ground.

He then got on top of her. Shrutika wrapped her hands around Sumit’s head and slowly pulled his head towards her big tits. She felt his mouth enclose on her breast and sighed with pleasure.

She could also feel his huge cock brushing against her thighs. As Sumit continued to suck on her tits, she spread her thighs wide and then locked them around his waist. Then she kissed Sumit’s neck and whispered in his ears.

“Sumit, I love you darling. Please fuck me now. I am so wet for you honey.” Sumit was still feasting on her lovely tits and he continued to do it. She slowly moved her hand downwards and between their bodies to reach his thick cock.

Sumit sighed with pleasure as he felt Shrutika’s palm cupping his large cock. He roughly grabbed Shrutika’s hair and kissed her lips hard. Shrutika was surprised but then she also opened her lips for him and kissed him back.

She caressed Sumit’s back with her hands as they continued to kiss passionately.

At the same time she felt Sumit thrusting his hips forward. She looked in his eyes as he broke the kiss. Then Sumit adjusted his huge cock at the opening of her wet hole. Sumit thrust forward slowly.

Shrutika moaned with pleasure as she felt Sumit’s huge cock enter her wet cunt. She closed her eyes and hugged Sumit in a tight embrace. Sumit slowly licked her neck as he moved his cock rhythmically in Shrutika’s cunt.

“Oh Sumit, it feels so good baby. Please don’t stop.” Sumit knew very well how Shrutika liked it. He took her lovely breast in his mouth and sucked at it gently. He continued to fuck her slowly and at the same time suckled her big tits.

Suddenly, he started to thrust his hips forward urgently. Shrutika gripped the hands of the sofa hard as Sumit started to pound her roughly.

“Oh Sumit, please don’t stop. Don’t stop. Fuck me harder.” Sumit didn’t need any invitation as he fucked her furiously. He grabbed hold of her waist and continued to pound her pussy hard.

Shrutika moaned with pleasure and screamed loudly as she was getting full length and girth of his circumcised cock in her cunt. Sumit’s cock was touching her in spots where her husband had never been. Her mouth was open and she wailed with pleasure continuously.

She gripped Sumit’s back tightly as she received full pounding from his cock.

“Shrutika, I am coming inside you baby.” Sumit whispered in her ears. Shrutika didn’t say anything but waited with breathlessness. Her own orgasm was approaching fast as Sumit touched the most intimate parts of her cunt.

Sumit shuddered and kissed her lips hard as he flooded her cunt with his baby batter. Shrutika just held him tightly as she felt warm liquid flooding her cunt and oozing out in a thin streak. They just held on to each other lovingly and kissed.

“I want to make your husband a cuckold. I want to fuck you right in front of him.” Sumit said as he nuzzled Shrutika’s tits.

“I am sure he will love it. He is a jerk anyway. I would love to humiliate him and cuckold him myself. What kind of jerk leaves his newlywed wife alone in Mumbai and goes for a job somewhere else?” Shrutika laughed mockingly. They were still in each other’s arms and Sumit was caressing her breasts.

“But I like him just for being a jerk and a pervert. I want to take this even further baby. I want you to have my baby. I want you to stop those pills that you take after we have sex. ” Shrutika squirmed as she felt Sumit’s teeth on her breasts once again. He bit softly on her nipples.

“Darling, we will talk about it later. I have already said that I will consider it. Meanwhile, you can stop giving my love bites on my tits. I already have enough to show to Avinash. Ouch.” She felt sharp pain as Sumit bit in the flesh of her tits.

“Love bites are something that is the more the better honey.” She hit him playfully, but then she held his head on her tits. After a few minutes, she pushed him away and got off the sofa.

“Now, let me get back to my husband.” She went the ward robe and picked out the same dress that she wore in the morning.

“Make sure you make your wimp husband taste my cum darling.” Sumit called out as he watched Shrutika go in the bedroom for changing.

“Of course, I wouldn’t miss the chance for anything in the life.” She laughed as she started wearing her bra.

After 10 minutes, she was out of the bedroom as Sumit still slouched on the sofa. She went to the sofa, kissed Sumit on the lips again and then asked him to phone Aslam. Sumit called Aslam and asked him to wait in the car so that he can drop Shrutika at her home.

“Bye darling. When do you want to meet again?” Sumit wrapped his hands around her waist as he walked her to the door.

“Aren’t you satisfied yet, baby? I could stay the night if you want.” Shrutika smiled mischievously as she reached the door and turned around to face him. She wrapped her hands around his neck. Sumit reached behind her and squeezed her ass cheeks.

“It is very tempting offer. But I would like it much better that you go home and feed my cum to your wimp husband.” She smiled and replied.

“I knew you are a pervert just like my husband. But that’s what I love about you.” She kissed his lips lightly.

“Bye darling. See you later.” She kissed him again and then went out of the door.

AUTHOR’S NOTE:

This is an erotic cuckold novel on Amazon which is available on the link below.

Making him a cuckold

Hindi Hot Story – बीवी का दुसरा आशिक

 

 

Hindi Hot Story – बीवी का दुसरा आशिक

 

इतना बड़ा लंड मुंह में जाते ही प्रियंका की तो जैसे जान ही निकल गयी. लेकिन उसने जैसे तैसे खुद को संभाला. उसने अपने दोनों हाथ समीर की कमर पर रखे और फिर अपना मुंह आगे पीछे करके समीर के लंड को चूसने लगी. वो अपनी गर्म जीभ समीर के लंड के ऊपर घुमा रही थी.

उसके हर एक चूसने से समीर के मुंह से आहे निकल रही थी. प्रियंका किसी रतिक्रीड़ा के विशेषज्ञ की तरह समीर के लंड को चूस रही थी. समीर को ऐसा लग रहा था जैसे की वो जन्नत में है और वहां की हुर उसका लंड चूस रही है.

समीर ने प्रियंका के दोनों मम्मों को पकड़ कर रखा था और वो उन्हें मसल रहा था. उसके हाथों के दबाने से प्रियंका के मम्मे लाल हो रहे थे और उसकी चुचिया बड़ी हो रही थी. उसकी जांघों में से उसका यौवन रस अब किसी झरने की तरह रिस रहा था.

“चूसती रहो मेरी जान. रुको मत.”समीर सिसकियों के बीच प्रियंका को और प्रोत्साहित कर रहा था. प्रियंका का मुखमैथुन करने का अंदाज कुछ ख़ास ही था. इतनी देर से चूसते रहने के बाद भी उसने अपना क दांत भी समीर के लंड को लगने नहीं दिया था. उलटा वो सिर्फ अपनी जीभ और लार की गर्मी से समीर को उत्तेजित कर रही थी.

प्रियंका के लाल होठ समीर के लंड को ऐसे चिपके हुये थ जैसे मधुमक्खी शहद के ऊपर चिपक जाती है. समीर की सांसे तेज हो रही थी. प्रियंका किसी लोलिपॉप की तरह समीर के लंड को चूसती जा रही थी. समीर के मुंह से मादक आवाजें आ रही थी.

“चूसती रहो जान. और चुसो मेरे लंड को.”समीर प्रियंका के गालों को सहलाने लगा और दुसरे हाथ उसने उसके बाल सहलाने लगा. उसे लग रहा था की शायद प्रियंका अब उसके लंड से सारा पानी निचोड़ क्र ही छोड़ेगी लेकिन उसी वक्त जैसे प्रियंका को भी समझ में आ गया. उसने हलके से अपना मुंह समीर के लंड से हटा लिया और हांफने लगी.

“बाप रे समीर कितना बड़ा है. चूसते चूसते तो मेरी जान ही निकल जायेगी.”उसने समीर की आंखों में देखते हुये कहा.

“अरे डार्लिंग अभी तो सिर्फ शुरुवात है. जान तो तेरी तब निकलेगी जब मै इसे तेरी गीली चूत में डालूंगा. चल अब लेट जा बेड पर.”समीर ने प्रियंका को हलके से पीछे धकेला.

“एक मिनट इसे उतारने तो दो.”प्रियंकाने मुस्कराते हुये अपनी पैंट उतरना शुरू किया. जैसे ही उसने पैंट उतारी समीर को उसकी चूत की खुशबु महसूस हुयी. प्रियंका की गीली चूत ऐसे महक रही थी जैसे कोई शहद की कटोरी हो.

“अब ज्यादा देर मत कर डार्लिंग. पैंटी भी उतार जल्दी.”समीर अब बेक़रार हो रहा था. उसका ताना हुआ लंड भी हिल रहा था. प्रियंका भी उतनी ही मदमस्त और बेकरार थी. उसने बिना कुछ कहे अपनी पैंटी भी उतार फेंकी और फिर पीठ के बाल पर लेट गयी. तब तक समीर भी उसकी पैंट उतार कर पूरी तरह नग्न हो चुका था. प्रियंका समीर के गठीले बदन को देख रही थी लेकिन उसकी सबसे ज्यादा नजर समीर के ताने हुये लंड पर ही जा रही थी. इतना बड़ा लंडी अपनी चूत में जाने के विचार से ही उसका बदन कांप रहा था लेकिन फिर भी वो उसे लेने की लिए उतावली हो रही थी.

उसने अपने दोनों पैर ऊपर किये और फिर उन्हें फैलाकर बेड पर रख दिया. समीर धीरे से प्रियंका के बदन के ऊपर लेट गया और उसने अपना चेहरा प्रियंका के चेहरे के पास ले गया.

उन दोनों एक पल एक दुसरे की आंखों में देखा लेकिन अब उन्हें बोलने में कोई इंटरेस्ट नहीं था. बिना कुछ कहे समीर ने प्रियंका के होठों को अपने होठों में लिया और उन्हें चूसने लगा. उसी वक्त प्रियंका अपना हाथ समीर की कमर की तरफ ले गयी और धीरे से टटोलते हुये उसने समीर का बड़ा लंड एक बार फिर से अपने हाथ में लिया और उसे सहलाने लगी. समीर को जैसे करंट ही लग गया.

उसने प्रियंका के होठ छोड़ दिये और प्रियंका के मम्मों पर कब्ज़ा कर लिया. अब वो मस्ती में आकर उसके मम्मे चूसने लगा और प्रियंका समीर के लंड को अपने हाथ से हिलाने लगी.

प्रियंका अब अपनी आंखें बंद करके हलकी हलकी सिसकियां छोड़ रही थी. उसने अपना दूसरा हाथ समीर की पीठ पर रखा था और वो उसे सहला रही थी. पहले हाथ से वो अभी भी समीर के लंड को सहला रही थी.

समीर ने प्रियंका के कंधों पर अपने हाथ रखे और वो उसके मम्मों को एक के बाद एक चूस रहा था. प्रियंका को कभी कभी उसके दांत लग रहे थे और वो सिहर रही थी. उसने अपना हाथ समीर के सर के पीछे किया और वो उसके बाल सहलाने लगी.

इसी वक्त समीर थोडा रुका तो प्रियंका भी उसे देखने लगी.

समीर ने अपने आपको थोडा स बदला और उसने अपना लंड प्रियंका की गीली चूत के ऊपर रखा. उसका मोटा लंड अपनी गीली चूत पर लगते ही प्रियंका ने अपनी आंखे बंद कर ली और इंतेजार करने लगी. अब उसकी सांसे तेज हो रही थी. उसने अपने दोनों हाथ समीर की छाती पर रखे और वो उसे सहलाने लगी.

इधर समीर ने अपना लंड प्रियंका की चूत पर रख कर एक धक्का दिया तो प्रियंका के मुंह से चीख निकल गयी.

“समीर धीरे डालो डार्लिंग. इतना बड़ा लेने की आदत नहीं है मेरी.”प्रियंका नीचे देखते हुये बोली तो समीर को हंसी आ गयी.

“क्यों? तुम्हारे उस चूतिये पती का कितना है?”ये सुनते ही प्रियंका जोर से हंस पड़ी.

“उसका तुमसे आधा भी नहीं है. उसकी बात छोडो. तुम हलके डालो डार्लिंग. बहुत दर्द होता है.”इतना कहकर प्रियंका ने वापस अपनी आंखे बंद की और समीर ने इस बार धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में घुसाया. प्रियंकाने फिर भी अपने होंठ अपने दांतों में चबाये लेकिन इस बार उसे पहली बार की तरह दर्द महसूस नहीं हुआ.

“आह समीर. कितना बड़ा है जान.”प्रियंका ने हलके से कहा और फिर उसने अपने दोनों हाथों को समीर की पीठ के पीछे लपेटा और उसे अपने से लिपटा लिया. अब समीर का लंड उसकी चूत में आधे से ज्यादा घुस चूका था. अब वो मस्ती में आकर अपने मम्मे समीर की छाती से रगड़ने लगी.

“मजा आ रहा है क्या जानू?”समीर ने उसके गालों को चुमते हुये पूछा तो प्रियंका शरमा गयी.

“हां अब इतना बड़ा लुंगी तो मजा तो आएगा ही ना.”वो हलके से बोली और फिर उसने अपने दोनों पैर हवा में उठाये और उन्हें समीर की कमर के इर्द गिर्द बंद किया. अब समीर का लंड प्रियंका की गीली चूत में था और उसकी कमर के बीच प्रियंका की टांगे थी.

अब समीर जोश में आकर प्रियंका की चूत में धक्के दे रहा था. उसका लंड अपनी चूत में रगड़ने से प्रियंका मदमस्त हो रही थी और समीर की बाहों में तड़प रही थी. समीर के हर धक्के के साथ उसका लंड और अंदर जा रहा था और प्रियंका और भी मदमस्त हो रही थी. उसकी चिकनी चूत अब गीली थी और समीर के लंड के लिए पूरी तरह से तैयार थी.

“ओह समीर. आय लव यू बेबी.”प्रियंका समीर के कंधे को सहलाते हुये उसके कान में बोली. समीर के हर धक्के के साथ प्रियंका के मम्मे उछल रहे थे. प्रियंका मस्ती में अपना सर कंधे के एक तरफ और दूसरी तरफ हिला रही थी. अपने दोनों हाथो से उसने समीर को अपनी बाहों में जकड रखा था.

एक तरफ उसे छोड़ते हुये समीर ने प्रियंका के मम्मे वापस अपने मुंह में लिए और वो उन्हें बेतहाशा चूसने लगा.

“उई मां मर गयी.”प्रियंका बीच में ही हलके से बोलती तो समीर का जोश और भी बढ़ जाता था. प्रियंका पूरी तरह से समीर के नीचे दबी हुयी थी और उसका अंग अंग समीर की लिये तड़प रहा था.

समीर ने उसके मम्मे छोड़ दिये और वो प्रियंका के गले पर चूमने लगा. लेकिन प्रियंका को असली जन्नत का नजारा तो तब दिखा जब समीर ने उसकी गर्दन को चाटना शुरू किया. उसकी गर्दन प्रियंका का वीक स्पॉट था. समीर का स्पर्श वहां होते ही प्रियंका जैसे पागल हो गयी.

वो अपने नितंब ऊपर नीचे करते हुये समीर का भरपूर साथ देने लगी. उसने समीर को कसकर पकड़ा हुआ था. अब वो समीर के हर धक्के का पूरा साथ दे रही थी और उसे खुश करने की भी पूरी कोशिश करने लगी थी. उसके बदन पर अब हवस ने पूरी तरह से कब्ज़ा कर लिया था. वो किसी तितली की तरह समीर की बाहों में तड़प रही थी और तिलमिला रही थी.

समीर ने जोर शोर से प्रियंका की चुदाई शुरू की.

“आह. आह. समीर प्लीज रुको मत जानू. चोदते रहो मुझे.” अब समीर की स्पीड काफी बढ़ गयी थी और वो बहुत जोर से धक्के दे रहा था. उसके हर धक्के के साथ प्रियंका के मुंह से आह निकल रही थी. समीर की जांघे प्रियंका की जांघों के ऊपर घिस रही थी और उसे जन्नत का अहसास दे रही थी.

समीर ने अपने दोनों हाथ प्रियंका के मम्मों पर रखे और फिर से उसे जोरसे चोदने लगा. इस बार प्रियंका भी उसका और जोर से साथ देने लगी. प्रियंका का मुंह खुला हुआ था और वो हांफ रही थी लेकिन फिर भी उसे जन्नत का नजारा दिख रहा था. समीर का बड़ा तगड़ा लंड उसे जन्नत का नजारा दिखा रहा था. वो उसकी चूत के हर एक हिस्से को छु रहा था और उसे स्वर्गसुख दे रहा था.

समीर ने अचानक ही प्रियंका के बाल जोर से पदके और खींचे.

“प्रियंका. डार्लिंग.”सिर्फ इतना कहते ही समीर का जिस्म थरथराने लगा और प्रियंका उससे लिपट गयी. एक के बाद एक धक्के मरते हुये समीर ने अपना सारा रस प्रियंका की चूत में दाल दिया.

प्रियंका का भी रस पूरी तरह से निकल गया और वो दोनों एक दुसरे की बाहों में कुछ देर तक पड़े रहे.

“मजा आया?”समीर ने पूछा तो प्रियंका शरमा दी.

“इतना मजा आज तक मुझे किसी मर्द के साथ नहीं आय.”प्रियंका शरमा कर बोली और उसने हलके से समीर को चूमा.

फिर वो दोनों एक दुसरे बाहों में कुछ देर तक सो गये.

AUTHOR’S NOTE:

This erotic story is part of the erotic novel “बीवी का दुसरा आशिक” available on Amazon.com.

Please click on the following link to get to the story on Amazon.com

https://goo.gl/n9sLF4